दरिन्दों ने रेप के बाद बालिका को उतारा मौत के घाट,एक महिला समेत चार गिरफ्तार

दरिन्दों ने रेप के बाद बालिका को उतारा मौत के घाट,एक महिला समेत चार गिरफ्तार

0

दरिन्दों ने रेप के बाद बालिका को उतारा मौत के घाट,एक महिला समेत चार गिरफ्तार

कमलजीत सिंह
ब्यूरो चीफ


लखीमपुर खीरी। खीरी जनपद मे फूलबेहड़ थाने की सुन्दरवल पुलिस चौकी क्षेत्र के एक गांव मे कामान्ध दरिन्दों ने छः वर्षीय एक मासूम बच्ची की रेप के बाद निर्ममतापूर्वक हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपियो की निशानदेही पर बच्ची के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने मृतक बच्ची के पिता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।
जानकारी के अनुसार सुन्दरवल पुलिस चौकी क्षेत्र के गांव निवासी किसान की छः वर्षीय बेटी मंगलवार दोपहर को घर के पड़ोस की रहने वाली फूलमती के घर के बाहर पड़े झूले में झूला झूलने की बात कहकर घर से गई थी । कुछ देर बाद माँ ने बाहर निकल कर देखा तो फूलमती के दो लड़के व बच्ची साडी के बने झूले में झूला झूल रहे थे। यह देखकर बच्ची की माँ अपने काम में लग गई । करीब दो घंटे बाद जब बच्ची घर नही लौटी तो माँ को बेटी की फ़िक्र हुई तथा वह उसे पास पड़ोस में ढूढ़ने निकल पड़ी। इधर उधर तलाश करने के बाद भी बेटी नही मिली तो पास पड़ोस के ग्रामीणो के साथ खेतो में भी ढूढ़ा लेकिन कोई पता नही चल सका। थक हार कर बच्ची के माता पिता ने पुलिस चौकी सुन्दरवल को सूचना दी। सूचना के बाद पुलिस गाँव गई और फूलमती से पूछताछ करके वापस लौट गई। रात नौ बजे फिर पुलिस गाँव पहुँची और शक के आधार पर फूलमती व उसके तीन बेटों रामलखन, रामाधीन और मसट्टी को हिरासत में ले लिया और थाने ले जाकर कड़ाई से पूछताछ की। पुलिस की पूछताछ मे आरोपियो ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। पुलिस ने रात मे ही करीब तीन बजे आरोपियों की निशानदेही पर आरोपियों के घर से पश्चिम सौ मीटर दूर रास्ते के किनारे पुलिया के अंदर से बच्ची का खून में लथपथ शव बरामद कर लिया। मृतका के शव की हालत से पता चल रहा था कि हत्या से पहले उसके साथ बलात्कार किया गया है। मृतका का नीले रंग का हॉप लोवर खून से भीगा हुआ था और गले पर खरोच के निशान व रस्सी से कसे के निशान बने थे। पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है । मृतका के पिता की तहरीर पर फूलबेहड पुलिस ने सभी आरोपियो के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »